English Hindi Knowledge book 1
English Hindi Knowledge book 2

Latest Post

(This blog is in continuation of 3 previous blogs in 'Save Family' series. Reading previous blogs is recommended for better understanding.)   (5) Liberty : The fifth alphabet in the word family

(5) Liberty : Family शब्द का पांचवां अक्षर है L, और यहाँ L stands for Liberty, यानी स्वातंत्र्य, फ्रीडम। लिबर्टी दो प्रकार की होती है, हितकारक और अहितकारक। हितकारक लिबर्टी

A few days ago, in all mediums of news (be it electronic media, print media or social media), for three consecutive days, a news was trending very vigorously. One day, that

यौवन के शिखर तक पहुँचते हुए मेरा रूप, गुण, चातुर्य और सौन्दर्य सोलह कलाओं सा खिल चुका था। मेरे पिता अंधकवृष्णि आदि बड़े मेरे विवाह के लिए चिन्तित थे, कि

Reaching the summit of youth, my form, quality, tact and beauty had blossomed through sixteen arts. My father, Andhak Vrishni, was very much anxious for my marriage and was in

भक्ति, पर्व और उत्सवों का त्रिवेणी संगम है श्रावण मास। रक्षाबंधन के इस त्यौहार की सबसे बड़ी विशेषता है श्रावणी-पूर्णिमा के दिन होना। आज के दिन चन्द्र अपनी श्रेष्ठ पूर्णता

यह दुनिया रिश्तों के रंगों से चहक उठती है । रिश्तों की खुशबू से ही ये जहाँ महक रहा है । उसमें भी दिल को जो रिश्ता खूब प्यारा और

The world blossoms with the colours of relationships. It is the relationships that make this world a better place to live in. In all of the relations that one relation

A construction to build a Mandir was going on. Someone asked one of the workers, “What are you doing?”. He replied, “I am breaking stones to earn my wage.” Then second

बिजली के चमकारे की तरह अमरदत्त का बचपन देखते ही देखते पूरा हो गया । “अमर ! आज से तुम्हे विद्याभ्यास करने के लिए गुरुकुल में जाना है । और वहाँ

हेलो फ्रेंड्स ! C.A बनना मुश्किल हैं, C. F.A बनना उससे भी ज्यादा मुश्किल हैं | लेकिन परमात्मा बनना तो सबसे ज्यादा मुश्किल है | इसलिए तो दुनिया के हर एक इंसान चाहे वो

( मूलाधार चक्र ध्यान की प्रक्रिया में से 1 से 6 क्रमांक तक ध्यान करने के पश्चात )7. फिर विचार कीजिए कि दूर क्षितिज से केशरी रंग की कोई चीज

प्रभु महावीर आतमजागृतिका अखंड दिप है प्रभु महावीर का अर्थ होता है औरों से अन छुआ निजत्व प्रभु महावीर का मतलब है जिनको किसी से भी मतलब नही है प्रभु महावीर यानि आनंदपूर्ण

 After studying the first study called Pap-Vipak, God Veer Prabhu started the second study. In the Bharata region of this Jambudweep there was a town called Vyaparigram. The people of

कुछ दिन पहले समाचार के सभी माध्यमों में  (इलेक्ट्रोनिक मीडिया हो चाहे प्रिन्ट मीडिया हो या सोशल मीडिया हो) तीन दिनों तक लगातार एक खबर बहुत जोरो से ट्रेन्ड हुई

एक मंदिर का निर्माण कार्य शुरू था | किसी ने मजदूर को पूछा “ तु क्या कर रहा है? “ उसने कहा “ पत्थर फोड़ने की मजदूरी कर रहा हूँ
× CLICK HERE TO REGISTER